कन्या व वर के विवाह की अड़चनों को दूर करने वाले प्रभावशाली मंत्र

0
291

1- कन्या के विवाह में विलम्ब का उपाय

ADVT

प्रयोग- 1- पहनने के वस्त्र का रंग पीला होना चाहिए, पीले फूल का प्रयोग, किशमिश का भोग पीतल की कटोरी में देसी घी का दीपक, जपकाल में। लकड़ी का आसन- भूमि पर कुश रखकर। निम्न मंत्र से 1०8 माला जपने के बाद उसी मंत्र से विनियोग करना है।

मंत्र है-

सिन्धूर पत्रं रतिधाम देहॅँ,

दिव्याम्बरम् संधुममीहितांगम्

सान्ध्यारूणाम् च धनुपंकज पुष्प्र बाणंम्

पन्चायुधम मोहन मोक्क्षणायम्।।

क्लीं मन्मथाय महाविष्णु स्वरूपाय

पति सुखं मे श्रघ्रिम देहि देहि।।

2- कन्या विवाह के लिए प्रयोग

1- सात साबुत छोटी सुपारियां।

2- हल्दी की सात गांठें।

3- गुड़ की छोटी सात डली।

4- सात जोड़े हल्दी से रंगे पीले जनेऊ।

5- चने की दाल 7० ग्राम।

6- पीले रंग के सात सिक्के।

7- पीले रंग के सात ताजे फूल।

8- पीले रंग का कपड़ा 7० सेमी।

9- भोजपत्र पर केसर की स्याही तथा अनार की कलम से मुहूर्त पर बना हुआ– 15 का– यंत्र या गुरु का यंत्र लेकर उस पर पार्वती का बीज मंत्र लिखकर रख लें।

दोनों यंत्रों के चित्र निम्न प्रदर्शित हैं….

 

प्रयोग विधि- शुक्ल पक्ष के गुरुवार को उपरोक्त सारी सामग्री को प्रात: कन्या, जो कि स्नान आदि से शुद्ध होकर, लेकर एक अलग पीले कोरे वस्त्र में लपेट बांध कर माता पार्वती के विग्रह या चित्र के साामने वर प्राप्ति की प्रार्थना करके इस प्रयोग को घर के किसी ऐसे स्थान पर रख दे, जो शुद्ध हो तथा किसी की नजर न पड़े। यह काम कन्या को ही करना है। भगवती की कृपा से महीने में कार्य सिद्ध हो जाता है। कार्य सिद्धि होने पर सात तोले चांदी की दक्षिणा आवश्य देनी चाहिए।

3- वर विवाहार्थ– प्रयोग का दिन शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को

सामग्री

1- मिश्री की सात डली।

2- चावर सत्तर ग्राम।

3- सफेद रंग का कोरा कपड़ा 7० सेंमी।

4- सफेद ताजे सात फूल।

5- सफेद चंदन की लकड़ी के टुकड़े सात।

6- सात जोड़े जनेऊ।

7- चांदी के सात सिक्के।

8- सात सफेद छोटी इलायची।

9- भोजपत्र पर अनार की कलम से केसर स्याही से शुक्र यंत्र बनवाकर रख लें तथा प्रयोग के दिन यानी शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को प्रात: वर द्बारा स्नान- ध्यान के पश्चात भगवती से प्रार्थना या मनौती कर अपने घर में किसी स्थान पर रख दें, जो शुद्ध हो तथा किसी की नजर न पड़े। दो माह में कार्य सिद्ध होता है।

शुक्र यंत्र निम्न प्रदर्शित है।

प्रस्तुति

विष्णुकांत शास्त्री
विख्यात वैदिक ज्योतिषाचार्य और उपचार विधान विशेषज्ञ
38 अमानीगंज, अमीनाबाद लखनऊ

मोबाइल नम्बर- 99192०6484 व 9839186484

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here