सेहत लाभ का विस्मयकारी मंत्र, शिवरात्रि पर साधना

0
124

श्री राम के नाम के प्रभाव से मनुष्य को पाप के ताप से मुक्ति मिल जाती है। दोनों लोकों में कल्याण प्रदान करने वाले श्री राम की महिमा का गान जिनता किया जाए, वह कम ही होगा। यहां हम एक ऐसा मंत्र बताने जा रहे है, जिसके प्रभाव से रोग दूर होते है। इस मंत्र की सिद्धि का तरीका हम आपको बताते हैं। जिसकी सिद्धि से श्री राम की कृपा प्राप्त होती है।
मंत्र है-
त्रिविध दोष दु:ख दारिद दावन।
कलि कुचालि कलि कलुष नसावन।।
मंत्र सिद्धि की विधि-
सर्व प्रथम आप गणपति का ध्यान-पूजन करें। फिर शिवरात्रि के अवसर पर इस मंत्र का एक लाख बार जप करें। इसके बाद जब भी आवश्यकता हो काँसे की कटोरी में जल भर करके इस मंत्र से 1०8 बार फूंक मारक रोगी को पिला दें। इस मंत्र के प्रयोग से देह को स्वस्थ किया जाता है, श्री राम कृपा से सभी प्रकार के देह दोषों का निवारण सफल होता है।

ADVT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here